संजय चिड़ार शिवपुरी/कोलारस नगर के संत फार्म जगतपुर में रहने वाले पर्यावरण प्रेमी उपाध्याय परिवार ने घर की छत को टेरेस गार्डन में बदल दिया है । लॉकडाउन में व्यवसाय बंद हैं लोग घरो में कैद हैं खाली बैठे हैं।

इसी समय का सदुपयोग करते हुए प्रेमी उपाध्याय ने घर में रखी पुरानी प्लास्टिक की बोतल,डिब्बे और पॉलीथिन का उपयोग करते हुए वेस्ट से बेस्ट घर की छत पर सैकड़ों पौधे तैयार किए हैं। उनका दावा है कि इससे घर के तापमान में 2 से 4 डिग्री की कमी आई हैं।

जितेंद्र उपाध्याय कोलारस को नंबर वन बनाने के उद्देश्य से घर से निकलने वाले गीले कचरे का उपयोग करके होम कंपोस्टिंग के जरिए होदी में गोबर बार कर केचुआ खाद बनाया जाता है,जिसका उपयोग पौधों में किया जाता है। इससे पौधे हरे भरे और जल्दी बढ़ते हैं। टेरेस गार्डन और नर्सरी बनाने छत पर ( दाना पानी ) और हरियाली होने से रोज पक्षी आते हैं और कई पक्षियों ने आसपास अपना घोंसला बना लिया हैं।