शिवपुरी। जिला अस्पताल में अपनी टीम के साथ जान जोखिम में डालकर कार्य कर रहे कोरोना वॉरियर्स रूपी चिकित्सकीय अमले की सेवा का ही परिणाम है कि जिला अस्पताल में 70 वर्षीय वृद्धा श्रीमती बसंती अग्रवाल को उचित उपचार मिलने के बाद वह अब स्वस्थ होकर अपने घर पहुंची है।

यहां उनके अनुभवो और चिकित्सकीय सेवा के दौरान मिलने वाले सहयोग के प्रति बसंती अग्रवाल के बहू मंच संचालिका श्रीमती संगम अग्रवाल व पुत्र संजेश अग्रवाल ने समस्त चिकित्सकीय स्टाफ का आभार माना कि उनके अनुकरणीय प्रयास से आज वह अपनी मॉं के साथ घर में सपिरवार खुशल होंगें।

अपने अनुभव सांझा करते हुए श्रीमती संगम अग्रवाल ने बताया कि जिला अस्पताल में बीते 15 दिन पूर्व 70 वर्षीय अपनी मां श्रीमती बसंती बाई अग्रवाल जो कि कोरोना संक्रमण से ग्रसित होते हुए लगभग 75 परसेंट फेफड़ों में इन्फेक्शन हो गया था और ऑक्सीजन लेवल भी पचपन आ गया था।

बावजूद इसके शहर की प्रसिद्ध मंच संचालिका संगम अग्रवाल ने अपने पति संजेश अग्रवाल और अपने जेठ राजेश अग्रवाल के साथ जिला अस्पताल पहुंचकर मां को वहां भर्ती कराया और लगभग 15 दिन के अटूट संघर्ष के बाद आज स्वस्थ होकर अपनी मां को लेकर अपने घर लौटी हैं।

इसके लिए उन्होंने जिला प्रशासन टीम खासकर डॉक्टर संतोष पाठक का और कोरोना वॉलिंटियर टीम का भी उन्होंने बहुत आभार माना है, इसमें खासकर रमन अग्रवाल का राजेश गोयल का और मेडिकल एसोसिएशन के वरिष्ठ कैलाश अग्रवाल, हरिओम अग्रवाल जिन्होंने उनसे सतत संपर्क में रहकर उनका पूरा ध्यान रखा और समय-समय पर इलाज से संबंधित जानकारी और उनकी व्यवस्थाएं जुटाने में उनका सहयोग किया।

श्रीमती संगम अग्रवाल ने कहा इसमें हमारे हमारे लिए किए गए सभी लोगों के प्रयास में हम उनका हम आभार व्यक्त करते हैं जिन्होंने कोराना काल के इस संक्रमण के दौरान स्वयं की जान की परवाह ना करते हुए भी अपने कार्यव्य को बखूबी निभाया और लोगों को कोरोना संक्रमण से बाहर निकलने में अपनी महती भूमिका निभाई।